GST

GST क्या है? निबंध और अर्थ जाने !

GST in Hindi
Written by Hindi FAQ Team

जीएसटी को लेकर बहुत से प्रश्न अभी भी लोगों के मन है जैसे कि जीएसटी क्या है (What is GST in Hindi), जीएसटी कितने प्रकार के होते हैं, जीएसटी वस्तुओं पर कैसे लगाई जाती है इत्यादि के बारे में आपको पता होना चाहिए..

ऐसा क्यों?

क्योंकि जब आप सामान लेते है उस पर और हर वस्तुओं पर Tax (कर) लगता है तो जो वस्तु आप लेते है उसका कितना टैक्स आपको देना होता है।

इस लेख में हम आपको जीएसटी को किसने लागू किया और भारत में जीएसटी कब लागू हुई थी इत्यादि के बारे में आपको बताया जाएगा.

आखिर सबको पता होना चाहिए कि जीएसटी के बारे में भारत में वस्तुओं का लेन देन होता है तो उसका टैक्स कितना होता है या फिर जो वस्तुएं आप खरीदते है अपनी जरूरतों के लिए उसमे कितना टैक्स भरना पड़ता है.

तो अब हम आपको जीएसटी के बारे में पूरी जानकारी देंगे। इसको जानने के लिए इसको आप अंत तक पड़े।

इस टैक्स की पूरी प्रक्रिया कैसे होती है कौन-सी वस्तु टैक्स लगाने से महंगी हुई है, कौन सी सस्ती हुई है। इस पूर्ण जानकारी को संक्षिप्त में पड़े।

तो चलिए दोस्तों जानते है GST Kya Hai और जीएसटी कितने प्रकार की होती है.

GST क्या है – What is GST in Hindi

जीएसटी क्या है? जीएसटी वस्तुओं पर टैक्स लगाती है जिस सामान की जरूरत आपको और हमे पड़ती है उस सामान को हम बाजार से खरीदते है, तो उसका हमे टैक्स भरना होता है.

भारत में जो पुराना टैक्स (कर) था उसे हटाकर अब GST लागू की गयी है जोकि नया टैक्स कर है.

इस टैक्स से जो भी वस्तुएं (सामान) खरीदते या बेचते है उसका एक ही Fix TAX होगा, ना ही कोई कम ले सकता है ना ही ज्यादा.. मतलब की fixed rate होगा.

GST Kya Hai » वस्तु और सेवाओं की खरीद पर लगाया जाने वाला उपभोग आधारित कर को जीएसटी कहते है।

इसमें पहले कच्चे माल की खरीद और फिर उसका उत्पादन तथा निर्माण करना इसके बाद सामान को तैयार करके दुकानदार को देना फिर दुकानदार से उस सामान को आप खरीदते है तो यह प्रक्रिया होती है और इसमें जीएसटी लगाई जाती है और इसे हम बहुस्तरीय टैक्स भी कहते है।


GST Ka Full Form Kya Hota Hai


अब तक आपने जान ही लिया की जीएसटी क्या है, अब जानते है कि जीएसटी की फुल फॉर्म क्या है।

बहुत से लोग जीएसटी के बारे में तो जानते है पर उनको यह ही नहीं पता होता है कि जीएसटी की फुल फॉर्म क्या है।

सब इस शब्द को बोल देते है ( जीएसटी ) पर GST Full Form नहीं जानते है। तो चलिए जीएसटी की फुल फॉर्म जानते हैं.

GST Full Form
GST Full Form in English :Goods and Services Tax
जीएसटी हिंदी में :वस्तु एवं सेवा कर

भारत में GST किसने लागू किया और GST कब लागू हुआ?


जीएसटी को किसने और कब लागू किया है?

जीएसटी लागू होते ही भारत में बहुत हलचल हुई थी। यह एक भारत सरकार द्वारा बहुत बड़ा कदम था जो की भारत में मोदी सरकार द्वारा जीएसटी लागू हुई.

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने जीएसटी को लागू किया…

मोदी सरकार द्वारा जीएसटी को 1 जुलाई 2017 को लागू की गयी इसी दिन से भारत में जीएसटी लागू हुई और प्रत्येक वस्तु कर पुराने टैक्स को हटाकर नए टैक्स को लागू किया.

Must Read

  1. NEFT क्या है?
  2. IRCTC क्या है?

भारत में टैक्स कितने प्रकार के होते हैं?


भारत में प्रत्येक वस्तु पर लगाए जाने वाले टैक्स के कितने प्रकार होते है। यानि टैक्स कितने प्रकार के होते है?

टैक्स दो प्रकार के होते है:-

  1. Direct tax
  2. Indirect tax

अब आपको इन दोनों टैक्स के बारे में बताते है कि यह भारत में किस प्रकार लगाए जाते है और डायरेक्ट टैक्स तथा Indirect Tax क्या होते है.

What is Direct Tax in Hindi (प्रत्यक्ष कर)

डायरेक्ट टैक्स उसे कहते है जिसे income tax कहते है यानि central government द्वारा किसी व्यक्ति या संस्था पर लगाया जाता है।

इस टैक्स को उस व्यक्ति और संस्था को ही चुकाना पड़ता है जिसे हम income tax भी कहते है.

Direct Tax किसी भी व्यक्ति की income पर लगाया जाता है। यह टैक्स वह व्यक्ति भरते है जिनकी Income ज्यादा होती है और इसलिए बहुत व्यक्ति इस टैक्स से बचने के लिए अपनी income को छुपाते है परंतु ऐसा करने पर उसे सजा भी मिलती है।

इसे ही direct and income tax कहते है।

आपने सुना ही होगा की किसी व्यक्ति पर जब टैक्स लगता है तो बोलते है की इनकम टैक्स की रेड पड़ी है। इसी को इनकम टैक्स कहते है.

What is Indirect Tax in Hindi (अप्रत्यक्ष कर)

अप्रत्यक्ष कर किसे कहते है?

इस टैक्स को हम वस्तुओं के लेन देन पर भरते है। साधारण शब्दों में कहे तो जब किसी वस्तु को बनाकर तैयार किया जाता है तो वस्तु को तैयार करने के बाद उसे दुकानदार को दिया जाता है तो वस्तु खरीदने पर इसका टैक्स उस वस्तु को लेकर चुकाएंगे।

जब वही वस्तु को दुकानदार हमें बेचता है तो उस वस्तु को हम खरीदते है तो इसका टैक्स दुकानदार हमसे लेता है यानि वस्तु खरीदने पर हम भी उसका टैक्स चुकाते है.

अगर हम एक Parle Biscuit खरीदते है तो उसका भी टैक्स हमे चुकाना पड़ता है, इसे अप्रत्यक्ष कर कहते है। इसे प्र्त्यक्ष न चुका कर अप्रत्यक्ष चुकाते है।

इस टैक्स को एक दूसरे के ऊपर डाल दिया जाता है और वस्तु को आखिर में खरीदने पर उस पर टैक्स लगता है। इसे अप्रत्यक्ष कर कहते है.


भारत में लागत अप्रत्यक्ष कर की : भारत का व्‍यापार पोर्टल


Central excise »on manufacture »central government
Customs duty »import & export »central government
Service tax »provision of service »central government
Entry tax »import from other tax »state government
Sales tax VAT/CST »sales of goods »state government
Entertainment tax »luxury tax »state government

All Information About GST in Hindi


जीएसटी के बारे में आपने अब तक बहुत जानकारी प्राप्त कर ली है अब आपको जीएसटी के कितने प्रकार है, जीएसटी कितने प्रकार के होते है इसे जानेंगे।

भारत में GST कितने प्रकार के होते हैं?

जीएसटी तीन प्रकार के होते हैं।

  1. CGST (central goods and services tax)
  2. SGST (state goods and services tax)
  3. IGST (integrated goods and services tax)

1. CGST – What is Central Goods and Services Tax in Hindi


CGST सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स को रिफ़र करती है जोकि किसी भी राज्य के अंदर होने वाले लेन-देन पर लगती है.

इसका टैक्स केंद्र सरकार वसूलती है और यह टैक्स central government के खाते में जाता है। इसे ही सीजीएसटी (CENTRAL GOODS AND SERVICES TAX) कहते है तो आपको सीजीएसटी समझ में आ गया होगा.


2. SGST – What is State Goods and Services Tax in Hindi

SGST – (स्टेट गुड्स एंड सर्विस टैक्स) इसे राज्य सरकार वसूलती है। इस टैक्स को भी राज्य के अंदर लगाने वाला टैक्स है जिसे एसजीएसटी (STATE GOODS AND SERVICES TAX) कहते है.

तो अब आपको यह भी समझ आ गया होगा कि SGST क्या है.


3. IGST – What is Integrated Goods and Services Tax in Hindi

IGST Integrated (गुड्स एंड सर्विस टैक्स) उसे कहते है जिसमे कोई भी सामान एक राज्य से दूसरे राज्य में भेजा जाता है.

उस टैक्स को राज्य और केंद्र सरकार वसूलती है। यही होता है IGST (INTEGRATED GOODS AND SERVICES TAX).

अब आपको पूरी तरह से समझ आ चुका होगा की जीएसटी क्या है (GST in Hindi) और यह कितने प्रकार के होते है और कौन सी सरकार कैसे कैसे टैक्स वसूलती है।

अब थोड़ा और जानते है जीएसटी के बारे में..

किन वस्तुओं पर कितना टैक्स लगता है इसके लिए आपको नीचे पूरी जानकारी पढ़नी होगी तो चलिए इसके बारे में भी जानते है.


GST Benefits in Hindi – GST के लाभ

आपको अपने प्रत्येक दिन में न जाने कितने सामान की आवश्यकता पड़ती है, घर के प्रयोग में लाए जाने वाली वस्तुएं, आपके खाने के वस्तुएं, आपके पहनने की वस्तुएं, अनेकों वस्तु की जरूरत पड़ती है.

अब आपको इतना पता होना चाहिए कि किन किन वस्तुओं पर कितना जीएसटी लगता है तो अब इसके बारे में जानते हैं.

  • हमारे भारत में वस्तुओं पर बहुत सारे कर चुकाने पड़ते थे लेकिन अब सबका टैक्स फिक्स हो गया है।
  • दूसरा फायदा यह है की आम आदमी को फायदा हुआ है। हमारे पूरे देश में कोई भी सामान खरीदने पर एक ही बार टैक्स चुकाना पड़ता है। जीएसटी लगाने से पहले दूसरे राज्य के समान पर टैक्स लगता था इसकी वजह से समान महंगा हो जाता था।
  • जीएसटी लगने से पहले हमारे देश में टैक्स के ऊपर टैक्स लगता था जिसकी वजह से हेरा फेरी भी होती थी पर अब ऐसा नहीं है।
  • पहले हमे Vat Tax अदा करना होता था पर अब जीएसटी के आने के बाद ऐसा नहीं है इसके वो सब सामान है जो सब घरों में प्रयोग किए जाते है जैसे की फल, सब्जी, तेल, गेहूं, बटर, चावल, दूध।
  • जब हमारे देश में दूसरे देश से सामान मंगाया जाता था तो उसके लिए custom देना होता था पर जीएसटी के आने के बाद custom तो देना ही होता है साथ ही साथ IGST भी देने होती है। इसके बाद उत्पाद और भी महंगे हो जाएंगे जिसकी वजह से लोग भारत का सामान लेना पसंद करेंगे।

जीएसटी लगने के बाद कौन कौन से वस्तु सस्ती हुई है?

अब बात आती है जीएसटी लगने पर आपको कौन सा सामान सस्ता होता है तो उन वस्तुओं को देखते है जो सस्ती हुई है.

घर में प्रयोग होने वाले वस्तुओं पर टैक्स नहीं लगेगा यानि वो वस्तुएं बिना टैक्स के आपको मिलेंगे जैसे की – गेहूं, चावल, दूध, शहद, बेसन, नमक, आटा आदि वस्तुओं पर आपको कोई भी टैक्स अदा नहीं करना है.

जीएसटी दरों आइटम वार सूची हिंदी में
  1. जीएसटी लागू होने पर घर पर 12% टैक्स लगाया गया है अब इसका फायदा यह है कि जो भी फायदा Builder उठाते थे अब ऐसा नहीं होगा।
  2. पहले AC, Washing Machine, Refrigerator पर टैक्स की कीमत 30 – 35% थी लेकिन जीएसटी लागू होने के बाद इस पर टैक्स की कीमत 28 % हो गयी है इसकी वजह से यह भी सस्ते हो गए है।
  3. किचन में सामान पर टैक्स कम हुआ है। किचन के समान पर सिर्फ 18 % टैक्स लगाया जाएगा। जीएसटी लगने पर इस किचन में महिलाओं के लिए आसानी हो गयी है।
  4. कार कितनी सस्ती हुई है? जी हाँ छोटी कार की कीमतों पर गिरावट हुई है और महंगी कार और महंगी होगी यानि अब आप भी कार खरीद सकते हो जिसके भी कार खरीदने के सपने थे वो पूरे होंगे।
  5. ट्रेन में यात्रा करने वाले व्यक्तियों के लिए खुशखबरी है क्योंकि ट्रेन की टिकट अब सस्ती होंगी स्लीपर वाली और एसी वालों के दाम बढ़ेंगे

जीएसटी लगने पर कितने फायदे हुये है या कितनी वस्तु सस्ती हुई है इसको हमने आपको बताया है। तो अब तो सब कुछ पता चल गया है जीएसटी के बारे में।


GST Exam Questions and Answers in Hindi

जीएसटी के बारे में इतना जानने के बाद आपको अब हम कुछ नया बताएँगे।

अगर आप परीक्षा के लिए तैयारी कर रहे है तो उस के लिए यह प्रश्न आपके काम आएंगे और आप इनको अपने नोट्स में भी लिख सकते हो। यह सारे प्रश्न जीएसटी से संबंधित बहुत जरूरी है.

  1. जीएसटी कब लागू हुआ = 1 जुलाई 2017
  2. जीएसटी का मॉडल कहाँ से लिया गया = कनाडा से लिया गया
  3. जीएसटी बिल पारित करने वाला प्रथम राज्य कौन सा है = असम
  4. जीएसटी लागू करने वाला प्रथम राज्य कौन सा है = तेलंगाना
  5. जीएसटी लागू करने का सुझाव = विजय केलकर समिति
  6. जीएसटी प्रारूप के प्रथम अध्यक्ष कौन है = असीम दास गुप्ता
  7. जीएसटी का गठन = अनुच्छेद 279A
  8. जीएसटी पारित किया गया = 122 वें संशोधन के तहत
  9. जीएसटी अधिनियम = 101 के तहत
  10. जीएसटी परिषद का मुख्यालय कहाँ है = दिल्ली
  11. जीएसटी बिल के अध्यक्ष कौन है = भारत के वित्त मंत्री
  12. जीएसटी अपनाने वाले देशों की संख्या = 160
  13. जीएसटी लागू करने वाला विश्व का प्रथम देश कौन सा है = फ्रांस
  14. जीएसटी के तीन कौन से भाग है = CGST , SGST , IGST
  15. CGST Full Form = CENTRAL GOODS AND SERVICES TAX
  16. SGST Full Form = STATE GOODS AND SERVICES TAX
  17. IGST Full Form = INTEGRATED GOODS AND SERVICES TAX
Conclusion

जीएसटी क्या है (What is GST in Hindi), GST के कितने प्रकार है, GST की फुल फॉर्म क्या है.

इन सब के बारे में हमने आपको विस्तार में बता दिया है ताकि आपको जीएसटी के बारे में पता चल जाए और इसके क्या फायदे होते है यह सब भी आपको पता चल गया है।

तो जीएसटी के लागू होने के बाद जिसको भी इसके बारे मे नहीं पता है उसको आप यह शेयर करें ताकि सबको इसकी जानकारी पूर्ण रूप से मिल जाए.

आखिर सबको इसके बारे में पता होना चाहिए क्योंकि सब लोग टैक्स अदा करते है तो आपको यह सब के साथ शेयर करना है ताकि सबको पता चले.

अगर आपको gst से संबंधित अभी भी कुछ पूछना है तो आप कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं.

What is Goods and Services Tax in Hindi
GST क्या है? निबंध और अर्थ जाने !

गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) भारत में वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति पर लगाया गया एक अप्रत्यक्ष कर (या उपभोग कर) है। यह एक व्यापक मल्टीस्टेज, गंतव्य आधारित कर: व्यापक है क्योंकि इसमें कुछ को छोड़कर लगभग सभी अप्रत्यक्ष करों को रखा गया है; बहु-मंचन के रूप में इसे उत्पादन प्रक्रिया में हर कदम पर लगाया जाता है, लेकिन इसका अर्थ अंतिम उपभोक्ता के अलावा अन्य उत्पादन के विभिन्न चरणों में सभी दलों को वापस कर दिया जाता है और गंतव्य आधारित कर के रूप में, क्योंकि यह उपभोग के बिंदु से एकत्र किया जाता है। और पिछले करों की तरह मूल की बात नहीं है।

Editor's Rating:
5

About the author

Hindi FAQ Team

Hindi FAQ में आप सभी का हार्दिक स्वागत है| यह एक हिंदी टेक ब्लॉग है जहाँ पर आपको टेक के बारे में बताया जाएगा| अगर आपको किसी भी विषय के बारे में जानना है तो आप कमेंट के माध्यम से अपना प्रशन पूछ सकते हो|

Leave a Comment